Homeपरिदृश्यटॉप स्टोरीलखीमपुर खीरी कांड के गवाह बीकेयू नेता पर जानलेवा हमला

लखीमपुर खीरी कांड के गवाह बीकेयू नेता पर जानलेवा हमला

spot_img

लखीमपुर खीरी ( गणतंत्र भारत के लिए न्यूज़ डेस्क): उत्तर प्रदेश में लखीमपुर खीरी में तिकुनिया कांड के गवाह भारतीय किसान यूनियन के जिला अध्यक्ष दिलबाग सिंह पर हमला किया गया है। कल कात उनकी गाड़ी पर तीन राउंड फायर किया गया। वे हमले में बाल-बाल बच गए।

जानकारी के अनुसार, दिलबाग सिंह अलीगंज से घर लौट रहे थे। वारदात गोला कोतवाली क्षेत्र में घटी। वे ब्रीजा कार में सवार थे और उन पर तीन राउंड गोलियां चलाई गईं। हमले में वे बाल-बाल बच गए। इस वारदात का एक सीसीटीवी फुटेज भी मिला है जिसमें उनकी गाड़ी के टूटे शीशे दिख रहे हैं।

इस वारदात के बारे में पुलिस में एक प्राथमिकी दर्ज कराई गई है जिसके अनुसार, दिलबाग सिंह ने बताया कि मूडा सवारन से करीब 500 मीटर पहले दो बाइक सवार अचानक से गाड़ी के पीछे आए और उन्होंने फायरिंग शुरू कर दी।  इससे ड्राइवर की साइड का पिछला टायर पंक्चर हो गया। गाड़ी रुकने के बाद दोनों हमलावरों ने ड्राइवर की सीट का दरवाजा खोलने की कोशिश की। दरवाजा नहीं खोलने पर दिलबाग सिंह की तरफ शीशे पर दो राउंड फायरिंग की।

लखीमपुर पुलिस ने मामले को दर्ज करके आगे कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस ने ट्विटर पर अपने बयान में बताया है कि, इस घटना में मामला दर्ज कर आगे की कार्यवाई की जा रही है। पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 307 के तहत दो अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

क्या है तिकुनिया कांड ?

किसान आंदोलन के दौरान, लखीमपुर खीरी में आंदोलन कर रहे किसानों पर कुछ लोगों ने गाड़ी चढ़ा दी थी जिसमें 6 किसानों की मैत हो गई थी। इस कांड में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय़ मिश्रा का बेटा आशीष मिश्रा उर्फ टेनी की सलिप्तता भी पाई गई। आशीष मिश्र आजकल सुप्रीम कोर्ट से जमानत रद्द होने के बाद जेल में हैं।

फोटो सौजन्य- सोशल मीडिया

Print Friendly, PDF & Email
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments