Homeपरिदृश्यटॉप स्टोरीदिल्ली में सभी प्राइवेट ऑफिस बंद, रेस्टोरेंट और बार से टेक अवे...

दिल्ली में सभी प्राइवेट ऑफिस बंद, रेस्टोरेंट और बार से टेक अवे सुविधा

spot_img

नई दिल्ली ( गणतंत्र भारत के लिए न्यूज़ डेस्क) : राजधानी दिल्ली के सभी प्राइवेट संस्थानों को बंद करने का आदेश दिया गया है। रेस्टोरेंट और बार को भी बंद रखने के लिए कहा गया है। बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों को देखते हुए दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने नई गाइडलाइन जारी की है। सोमवार को डीडीएमए की बैठक के बाद रेस्टोंरेट और बार को बंद रखने का आंदेश दिया गया था।

डीडीएमए की नई गाइडलाइन के अनुसार, राजधानी में सभी प्राइवेट संस्थान बंद होंगे। यहां काम करने वाले कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम की सुविधा दी जाएगी। हालांकि डीडीएमए ने उन दफ्तरों को इससे बाहर रखा है जो इस श्रेणी में नहीं आते। इसी के साथ सभी रेस्टोरेंट और बार भी बंद किए जाएंगे। यहां से सिर्फ खाना ले जाने की सुविधा होगी।

तीसरे के बाद चौते डोज़ की जरूरत

फाइजर के सीईओ एलबर्ट बौरुला ने कहा है कि, कोरोना से निपटने के लिए वैक्सीन के चौथे डोज की जरूरत पड़ सकती है। उन्होंने कहा कि, कोविड-19 से लड़ने के लिए ये चौथी डोज मार्च में ओमीक्रोन से जैसे घातक वैरिएंट से मुकाबला करने के लिए तैयार होगी।

स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़े

इस बीच, स्वास्थ्य मंत्रालय से जारी कोरोना के ताजा आंकड़ों के अनुसार देश में पिछले 24 घंटे में 1,68,063 नए कोरोना केस सामने आए हैं। 69,959 लोग स्वस्थ होकर घर गए हैं। 277 लोगों की मौत हुई हैं। भारत में एक्टिव केस की बात करें तो ये आंकड़ा 8,21,446 पर पहुंच गया है वहीं अब तक 3,45,70,131 लोग स्वस्थ होकर घर गए हैं। कुल मौतों की बात करें तो ये संख्या 4,84,213 पर पहुंच गई है। वैक्सीनेशन का आंकड़ा 152 करोड़ के पार चला गया है। भारत में कुल ओमीक्रोन मामलों की संख्या 4,461 पहुंच गई है। देश में संक्रामकता दर 10.64 प्रतिशत पर है। राज्यों के हिसाब से महाराष्ट्र और दिल्ली ओमीक्रोन मामलों में पहले और दूसरे नंबर हैं।

बुजुर्गों और फ्रंटलाइन वर्करों के लिए बूस्टर

स्वास्थ्यकर्मियों, फ्रंटलाइन वर्करों और बुजुर्गों को बूस्टर डोज या प्रिकॉशनरी डोज लगना शुरु हो चुकी है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, अब तक 9,84,676 प्रिकॉशन डोज दी गईं जिसमें 5,19,604 हेल्थ वर्कर्स, 2,01,205 फ्रंटलाइन वर्कर्स और 60 साल से ऊपर 2,63,867 लोगों को पहली डोज लगाई जा चुकी है।

फिलहाल लॉक़डाउन नहीं

दिल्ली के मुख्य़मंत्री केजरीवाल ने कहा है कि राजधानी में कोविड संक्रमण की स्थिति काफी खराब है। केजरीवाल ने कहा कि, दिल्ली के लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है लेकिन उन्हें एहतियात बरतना होगा और सभी को मास्क पहनना होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि, कई लोग मुझसे पूछ रहे हैं कि लॉकडाउन लगेगा ?  हम लॉकडाउन नहीं लगाना चाहते। लॉकडाउन नहीं लगेगा अगर आप मास्‍क पहनोगे। जरूरत न पड़े तो घर से बाहर न ही निकलो अभी थोड़े दिन।

अमेरिका में रिकॉर्ड संक्रमण

कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित अमेरिका में एक दिन में 10 लाख से ऊपर नए मामले समाने आए हैं। ये दुनिया में किसी भी देश में कोरोना संक्रमण के 24 घंटे आने वाले सर्वीधिक मामले हैं।

फोटो सौजन्य- सोशल मीडिया

Print Friendly, PDF & Email
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments