Homeपरिदृश्यटॉप स्टोरीअमेरिका में राहुल, 'हमारे मोदी जी तो, भगवान को भी समझा...

अमेरिका में राहुल, ‘हमारे मोदी जी तो, भगवान को भी समझा सकते हैं…’!

spot_img

वॉशिंगटन (गणतंत्र भारत के लिए एजेंसियां ) : सैन फ्रांसिस्को में भारतीय समुदाय को संबोधित करने के दौरान कांग्रेस नेता राहुल गांधी की सभा में खालिस्तानी समर्थकों ने नारेबाजी की और खालिस्तानी झंडे लहरा कर सभा में बिघ्न डालने की कोशिश की। प्रदर्शकारियों के होहल्ले के बीच राहुल गांधी ने मुस्कराते हुए उनसे सिर्फ इतना कहा कि, ‘नफरत के शहर में मोहब्बत का बाजार’। इस घटना के बाद, सोशल मीडिया पर शेयर एक वीडियो में ‘सिख फॉर जस्टिस’ के सरगना गुरपतवंत सिंह पन्नू ने राहुल गांधी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धमकी दी। वीडियो में पन्नू ने कहा कि, राहुल गांधी अमेरिका में जहां भी जाएंगे खालिस्तानी उनके सामने खड़े होंगे। उसने ये भी कहा कि, 22 जून को अगली बारी पीएम मोदी की है।

इससे पहले, राहुल गांधी ने भारत में अल्पसंख्यकों खासकर मुसलमानों, दलितों और वंचितों की स्थिति पर खुलकर अपने विचार साझा किए। इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी जमकर चुटकी ली। उन्होंने ये भी कहा कि, आज भारत में आरएसएस और बीजेपी का पूरी मशीनरी पर कब्जा है और सरकारी एजेंसियों का इस्तेमाल विरोधियों को डराने और धमकाने के लिए किया जा रहा है।

राहुल ने मुसलमानों के बारे में क्या कहा ?

राहुल गांधी ने कहा कि, जिस तरह आप (मुसलमानों) पर हमला हो रहा है, मैं गारंटी दे सकता हूं कि सिख, ईसाई, दलित, आदिवासी भी ऐसा ही महसूस कर रहे हैं। राहुल गांधी से जब ये पूछा गया कि, आज मुसलमानों की जो स्थिति है, उसे पहले की तरह करने या सामान्य स्थिति लाने पर आप क्या संदेश देना चाहेंगे। इस पर राहुल ने कहा कि इस स्थिति को बारे में बोलने के लिए एक लाइन है, ‘नफरत के बाजार में मोहब्बत की दुकान’। उन्होंने कहा कि ‘आज मुसलमानों को सबसे अधिक महसूस हो रहा है क्योंकि ये उनके साथ सीधे-सीधे हो रहा है।’

राहुल गांधी ने कहा कि ‘वास्तव में आज जो भी भारत में गरीब तबका है, जब देश में चुनिंदा अमीर लोगों को देखता है तो उसे भी बिल्कुल वैसा ही महसूस होता है जैसा आपको होता है। वो भी सोचता है कि आखिर ये क्या हो रहा है। कैसे 4-5 लोगों को पास लाखों-करोड़ों रुपए की संपत्ति है और मेरे पास खाने को कुछ भी नहीं है।’ राहुल ने कहा कि, इस चीज को घृणा से नहीं खत्म कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि इस घृणा को प्यार और मोहब्बत से ही खत्म कर सकते हैं। राहुल गांधी ने कहा कि देश का आम आदमी किसी से नफरत नहीं करता। किसी को मारने के बारे में नहीं सोचता है। उन्होंने कहा कि ये चंद लोग हैं जिनका सिस्टम पर कंट्रोल है। उनका मीडिया पर कंट्रोल है। उन लोगों की पीछे पैसे वालों लोगों का पूरा सपोर्ट है।

समय-समय पर ऐसे हालात आते रहे हैं

राहुल गांधी ने कहा कि, ‘देश में समय-समय पर ऐसा होता रहा है। आज जो मुसलमानों के साथ हो रहा है, 80 के दशक में दलित समुदाय के साथ हुआ था।…तो समय-समय पर देश में इस तरह की चीजें होती रही हैं। हमारे सामने इस तरह की चुनौतियां आती रहती हैं और हमें इस तरह की चुनौतियों से लड़ना होगा।

प्रधानमंत्री के बारे में क्या कहा ?

राहुल गांधी ने कहा कि, ‘…..भारत में ऐसे कुछ लोग हैं, जिन्हें पूरा यकीन है कि वो सब कुछ जानते हैं। असल में, मुझे लगता है कि हो सकता है कि वो सोचते हों कि वो भगवान से भी ज्यादा जानते हैं। वो भगवान के साथ बैठकर बातचीत कर सकते हैं और उन्हें समझा सकते हैं कि क्या चल रहा है। और हमारे प्रधानमंत्री ऐसे ही एक शख्स हैं। मुझे लगता है कि अगर आप मोदी जी को भगवान के बगल में बैठा देंगे, तो मोदी जी भगवान को समझाना शुरू कर देंगे कि ब्रह्मांड कैसे काम करता है, और भगवान भ्रमित हो जाएंगे कि मैंने क्या बनाया है।’

सरकारी एजेंसियों का गलत इस्तेमाल  

राहुल गांधी ने कहा कि, ‘भारत में लोगों को धमकाया जा रहा है और उन पर एजेंसियों का इस्तेमाल किया जाता है।…..आरएसएस और बीजेपी भारत में राजनीति के सभी उपकरणों को नियंत्रित कर रहे हैं।’

भारत के बारे में क्या कहा ?

राहुल गांधी ने कहा कि, ‘अगर आप हमारे देश को देखें तो पाएंगे कि हमारे देश में किसी भी आईडिया को आत्मसात करने की क्षमता है। भारत ने कभी किसी आईडिया को रिेजेक्ट नहीं किया। हर कोई जो भारत आया है, उसका खुले हाथों से स्वागत किया गया और यही वो भारत है जिसे हम पसंद करते हैं। ऐसा भारत जो बाकी दुनिया का सम्मान करता है, भारत जो विनम्र है, भारत जो सुनता है, भारत जिसके मन में स्नेह है।’

फोटो सौजन्य- सोशल मीडिया

Print Friendly, PDF & Email
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments